Khabar Aajkal

[adinserter block="1"]
बिहार:-नया नेतृत्व खड़ा करने में जुटी बीजेपी।
Spread the love

बिहार:-नया नेतृत्व खड़ा करने में जुटी बीजेपी।

बीजेपी ने पहले मध्य प्रदेश के बाद अब बिहार के जरिए यह साफ संकेत दिया है कि उसकी मंशा राज्यों में पुराने चेहरों की जगह नए नेतृत्व को आगे लाने की है।मध्य प्रदेश में कई दिग्गज राजनेता शिवराज सरकार में जगह पाने में नाकाम रहे थे, वहीं, बिहार में बीजेपी ने सबसे पहले सुशील कुमार मोदी को प्रदेश की सियासत से हटाकर केंद्र की राजनीति में लाने का काम किया है, साथ ही अब बीजेपी ने डॉ प्रेम कुमार और नंदकिशोर यादव जैसे नेताओं को कैबिनेट में शामिल नहीं किया है।

बिहार में लंबे इंतजार के बाद आखिरकार मंगलवार को नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार मंत्रिमंडल का विस्तार हो गया। बीजेपी ने पहले मध्य प्रदेश के बाद अब बिहार के जरिए यह साफ संकेत दिया है कि उसकी मंशा राज्यों में पुराने चेहरों की जगह नए नेतृत्व को आगे लाने की है, मध्य प्रदेश में कई दिग्गज राजनेता शिवराज सरकार में जगह पाने में नाकाम रहे थे। वहीं, बिहार में बीजेपी ने सबसे पहले सुशील कुमार मोदी को प्रदेश की सियासत से हटाकर केंद्र की राजनीति में लाने का काम किया है, साथ ही अब बीजेपी ने डॉ प्रेम कुमार और नंदकिशोर यादव जैसे नेताओं को कैबिनेट में शामिल नहीं किया है।

बिहार में करीब महीनेभर चली रस्साकसी के बाद मंगलवार को नीतीश कैबिनेट में 17 चेहरों को शामिल कर लिया गया, जिनमें बीजेपी कोटे से 9 और जेडीयू कोटे से 8 मंत्री बने हैं, नीतीश सरकार के मंत्रिमंडल में अब कुल 31 सदस्य हो गए हैं जबकि 5 मंत्रियों के पद अभी भी खाली है। बिहार में बीजेपी की जगह पहली बार जेडीयू के बड़े भाई की भूमिका में मंत्रिमंडल में भी हो गई है, बीजेपी कोटे से कुल 16 मंत्री हो गए हैं जबकि जेडीयू से मुख्यमंत्री सहित कुल 13 मंत्री हैं।


Spread the love
author
News cordinator and Advisor at Khabar Aajkal Siliguri

Related Articles